सब याद रखा जाएगा।

Aaditya Tiwari
1 min readJan 18, 2020

सब याद है इतिहास को

कुछ भूला नहीं है वो

कुछ करवटें आए अगर

थोड़ा बिखरना भी सही

लेकिन साहब,

ये देश का इतिहास है

कोई आज की बात नहीं

इतिहास यहाँ का कोई कल की शुरुआत नही

कहानी लंबी है इसकी, कहाँ से शुरू करोगे?

बात निकलेगी तो फिर दूर तलक जाएगी

लोग आएँगे, लोग जाएँगे चले

यहाँ की हस्ती है लेकिन ऐसी

की मिट नही सकती

सदियों, हज़ारों साल की कोशिश रही है जो

सब याद है इसको

कोई कुछ भी भूला नहीं

इतिहास को मिटाने की कितनी ही कोशिश हुई

ज़मीन की गहराइयों से वो खुद निकल खड़ा है देखो

सब याद था उसको, सब याद रहेगा

और कोई कितना भी चाहे, सच है!

सब याद रखा जाएगा :)

(Was prompted to write this poem after listening to this https://youtu.be/5_okg1cCkvg)

--

--

Aaditya Tiwari

शब्द के आडम्बरों में अर्थ मेरा खो न जाये. OSD to Sh @pemakhandubjp| @TeachForIndia | @indfoundation | @ColumbiaSIPA |Quizzer|Like to write poems|Views personal